एसबीआई/SBI ने एक महीने में दूसरी बार एफडी/FD दरों, एमसीएलआरMCLR दरों में कमी की

Last Updated: March 18, 2020

Free Current Affairs to Your Email
18 March 2020 Current Affairs: भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिंग रेट्स (MCLR) में दस आधारों तक 15आधार अंकों( bps) की कटौती की घोषणा की है। यह दूसरी बार है जब ऋणदाता अपनी सावधि जमा (एफडी) ब्याज दरों में कटौती की घोषणा कर रहा है। यह एक महीने में दूसरी कटौती और चालू वित्त वर्ष में दसवीं कटौती है।

मुख्य विशेषताएं:
- एसबीआई/SBI ने कुछ कार्यकालों के लिए रिटेल टर्म डिपॉजिट (2 करोड़ रुपये से कम) 10 से 50 बीपीएस तक घटाया है। होम लोन और एफडी की नई दरें 10 मार्च से प्रभावी हो गईं।
- 10 मार्च 2020 से एक साल की MCLR 7.85% से घटकर 7.75% हो गई।
- MCLR से जुड़े पात्र होम लोन खातों पर EMI 30 साल के लोन पर लगभग 7 रुपये प्रति 1 लाख से कम हो जाएगी। इसने यह भी कहा कि कार ऋण पर ईएमआई भी सात साल के ऋण पर 5 रुपये प्रति 1 लाख तक कम हो जाएगी।
- सिस्टम में पर्याप्त तरलता के कारण एसबीआई की एफडी दरों में 10-50 बीपीएस की कमी की गई है। इसने एक वर्ष और उससे अधिक की परिपक्वताओं के लिए खुदरा बीपी जमा पर लागू ब्याज दरों में 10 बीपीएस की कमी कर दी थी और 45 दिनों तक की दरों के लिए 50 बीपीएस कर दी थी। एसबीआई ने 180 दिनों और उससे अधिक के कार्यकाल के साथ जमा के लिए एफडी दरों में 15 बीपीएस की कमी की।

Subscribe to Current Affairs

Enter your email to get daily Current Affairs

Monthly Current Affairs PDF